श्रीनगर में धारा 144 लागू , उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ़्ती नज़रबंद

0
SECTION 144
SECTION 144

पिछले कुछ दिनों से सरकार ने अपनी गतिविधियों से यह साफ़ कर दिया है कि कश्मीर में कुछ बड़ा होने वाला है और इसका असर अब साफ़ देखने को मिल रहा है।

श्रीनगर में धारा 144 लगा दी गयी है जिसे कश्मीर के अलग अलग जिलाध्यक्षों ने एडवाइजरी जारी कर इस बात को जनता तक पहुंचाया।

बता दें की सोमवार को कश्मीर के सभी कॉलेज और स्कूलों को बंद रखने का आदेश जारी कर दिया गया है,और सोमवार यानी 5 अगस्त को होने वाली सभी परीक्षाओं को रद्द भी कर दिया गया है। राज्य में आंशिक रूप से इंटरनेट सुविधा को भी धीमा कर दिया गया है जिससे की किसी भी तरह की अफवाह आसानी से फैलाई नहीं जा सकेगी।

ख़बरें यहाँ भी-
नीतीश ने मोदी को दिया अप्रत्यक्ष समर्थन? ट्रिपल तलाक बिल में जदयू का मास्टरप्लान

उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर जानकारी दी और कहा कि और कश्मीर के तमाम नेताओं को नज़रबंद और हिरासत में लिया जा रहा है, उन्होंने ट्वीट किया कि आर्टिकल 35A और 370 के साथ छेड़छाड़ करना घातक हो सकता है और वे अंतिम सांस तक कश्मीर की हक़ के लिए लड़ाई लड़ते रहेंगे।

इसी बीच पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री इमरान खान ने कहा है कि ”भारत के किसी भी दुस्साहस का वे मुंहतोड़ जवाब देंगे” कश्मीर के साथ कोई भी छेड़छाड़ करना भारत के लिए महंगा पड़ सकता है।

बता दें की कश्मीर की सुरक्षा के लिए तमाम क्षेत्रीय पार्टियों के नेताओं को नज़रबंद किया जा रहा है जिसमें महबूबा मुफ़्ती, उमर अब्दुल्लाह और सज्जाद लोन जैसे नेता शामिल हैं।

श्रीनगर में इन गतिविधियों से कयासों का बाज़ार भी गर्म है और लोग अपने हिसाब से अलग अलग तरह की संभावनाएं व्यक्त कर रहे हैं।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 
पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

सुरक्षा के मद्देनज़र कश्मीर में इंटरनेट सुविधा पर विशेष रूप से ध्यान दिया गया है और उसकी स्पीड को काम कर दिया गया है ताकि किसी भी तरह की अफवाह भयंकर रूप न ले सके।

फिलहाल करीब 40 हज़ार जवान जो कि अलग अलग टुकड़ियों से हैं वे कश्मीर की घाटियों में तैनात हैं और कश्मीर में क्या होने वाला है इसपर भी अभी संदेह और सवालिया निशान बरकरार है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here