अरुण जेटली की सेहत में कोई सुधार नहीं, नेताओं के मिलने का दौर जारी

0
ARUN JAITLEY
ARUN JAITLEY

एम्स में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत 23 अगस्त को बिगड़ गई।

पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ करने के लिए अस्पताल का दौरा किया।

19 अगस्त को भाजपा के दिग्गज नेता एल.के. आडवाणी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, यू.पी. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और भाजपा सांसद मेनका गांधी ने श्री जेटली के स्वास्थ्य के बारे में जानने के लिए अस्पताल का दौरा किया।

66 वर्षीय श्री जेटली को सांस लेने में तकलीफ और बेचैनी की शिकायत के बाद 9 अगस्त को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ले जाया गया।

ख़बरें यहाँ भी-
पाकिस्तान खोलेगा करतारपुर कॉरिडोर, महमूद कुरैशी ने दी जानकारी

एम्स ने 10 अगस्त से श्री जेटली के स्वास्थ्य पर कोई बुलेटिन जारी नहीं किया है।

20 अगस्त को अस्पताल के सूत्रों ने कहा कि वह जीवन समर्थन पर हैं। डॉक्टरों की एक बहु-विषयक टीम उसकी स्थिति की निगरानी कर रही है।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी, ​​जितेंद्र सिंह, रामविलास पासवान और अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस नेता अभिषेक सिंघवी और ज्योतिरादित्य सिंधिया और आरएसएस प्रमुख सहित कई प्रमुख नेता।

श्री जेटली के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ करने और उनके परिवार के सदस्यों से मिलने के लिए हाल के दिनों में मोहन भागवत ने अस्पताल का दौरा किया है।

श्री जेटली ने 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था, संभवत: अपनी अस्वस्थता के कारण।

मई 2019 में, श्री जेटली को इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया गया था।

उन्होंने 14 मई, 2018 को एम्स में रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ वित्त मंत्रालय में उनके लिए एक गुर्दा प्रत्यारोपण किया था।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 
पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

श्री जेटली, जिन्होंने अप्रैल 2018 की शुरुआत से कार्यालय में जाना बंद कर दिया था, 23 अगस्त, 2018 को वित्त मंत्रालय में वापस आ गए थे।

सितंबर 2014 में उन्होंने बेरियाट्रिक सर्जरी कराई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here