गंगा में बढ़े जलस्तर से बढ़ा बाढ़ का खतरा, मुख्यमंत्री करेंगे हवाई सर्वे

0
GANGA FLOOD
GANGA FLOOD
बिहार में पानी ने फिर से अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है और अब गंगा भी अपने जलस्तर को पार कर उच्च पायदान तक पहुंच गई है जहां से वो किसी भी वक़्त बिहार के कई जिलों को फिर से तबाह कर सकती है।
गंगा में बढ़े जलस्तर पर सरकार एवं प्रशासन चिंतित है क्योंकि बस महीने भर पहले ही कोसी नदी ने आतंक फैलाया था और करीब 10 जिलों को अपने चपेट में लिया था जिसमें मधुबनी, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, सीतामढ़ी और तमाम जिले शामिल थे जिसमें सबसे ज्यादा असर मधुबनी में देखने को मिला था।
कल बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गंगा के बढ़ते जलस्तर को देखने गांधी घाट पहुंचे और वहां के हालात का मुआयना कर यह बताया कि लगातार गंगा के जलस्तर में बढोतरी हो रही है जो काफी चिंता का विषय है।
उन्होंने कहा कि वे शुक्रवार को बढ़े जलस्तर का मुआयना हवाई सर्वे के द्वारा करेंगे और यह जानने की कोशिश करेंगे कि आखिर किन किन उपायों का इस स्थिति में होना जरूरी है।
सर्वे बक्सर से शुरू होगा और तय समय के हिसाब से यह सर्वे गुरुवार को ही होना था परंतु किसी कारणवश वह नहीं हो पाया और अब यह सर्वे शुक्रवार को होगा। पानी का स्तर कई जगह खतरे के निशाने के ऊपर है और आगे भी पानी के बढ़ने की संभावना है और ऐसे हालात में सतर्क रहना बेहद जरूरी है ।
एहतियातन नदी के किनारे बालू के बोरे और अलग अलग तरह के बचाव के उपाय भी शुरू कर दिए गए हैं।
बता दें कि 2016 में गंगा नदी के दोनों किनारे से सटे 12 जिलों में बाढ़ आई थी जिसके बाद भी कम जानमाल के नुकसान के बाद स्थिति को काबू में कर लिया गया था।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

मुख्यमंत्री के हवाई सर्वे और कल के बाद यह बात साफ हो पाएगी की आखिर गंगा का जलस्तर किस अनुपात में बढ़ रहा है और इनपर सरकार के द्वारा क्या कदम उठाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here