बिहार विधानसभा सचिवालय में नौकरी के नाम पर चल रहा है फर्जीवाड़ा, पटना में दर्ज हुआ है मामला

0

पटना।बिहार विधानसभा सचिवालय में नौकरी के नाम पर फर्जीवाड़ा चलने का मामला प्रकाश में आया है।
नौकरी के नाम पर फर्जीवाड़ा का मामला सामने आने के बाद से विधान सभा सचिवालय के अधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया है।इसके बाद रविवार को पटना के सचिवालय थाना में एक एफआईआर दर्ज कराया गया है। साथ ही विधान सभा अध्यक्ष की तरफ से पूरे मामले की जांच कर शातिर ठगों की पहचान करने और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है।

ऐसे सामने आया मामला

झारखंड के रामगढ़ के डीभीसी चौक गोला इलाके में आलोक अग्रवाल रहते हैं।इनकी वाइफ जुली कुमारी 5 अप्रैल को जूनियर र्क्लक के पद अपना योगदान देने के लिए बिहार विधानसभा सचिवालय में पहुंची थी। इनके ज्वाइनिंग लेटर को देख अधिकारियों के होश उड़ गए। अधिकारियों की जांच में जुली कुमारी का ज्वाइनिंग लेटर फर्जी पाया गया।

जैसे ही इस बात की जानकारी जुली और उसके साथ आए लोगों को हुई, वैसे ही सारे लोग विधान सभा कैंपस से फरार हो गए।बाद में अधिकारियों ने फर्जी ज्वाइनिंग लेटर में लिखे मोबाइल नंबर 8968508733 पर कॉल कर जुली से बात करने और फर्जीवाड़ा के इस खेल के बारे में जानने की कोशिश की गई।लेकिन इसका कोई रिजल्ट नहीं मिला।

आपको बता दें कि फर्जी लेटर में महिला को ज्वाइन करने से पहले ट्रेनिंग लेने के लिए 38 हजार 500 रुपए जमा करने को भी कहा गया था।ठगी के इस खेल के पीछे शातिरों ठगों का कौन सा गैंग शामिल है? इस तरह से कितने बेरोगार लोगों से नौकरी के नाम पर कितने की ठगी की गई है? इन सारे सवालों का जवाब अब पटना पुलिस की जांच और ठगों के पकड़े जाने के बाद ही पता चल पाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here