राजधानी में ठंड का कहर जारी, डीएम ने 16 जनवरी तक स्कूल बंद करने का दिए आदेश

0
पटना के डीएम कुमार रवि ने कक्षा नर्सरी से कक्षा पांचवीं तक बंद करने का आदेश दिए

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: सूबे में ठंड को लेकर बिहार सरकार ने पूरे राज्य में अलर्ट जारी किया है. आपको बता दें कि इसी को घ्यान में रखकर पटना के डीएम कुमार रवि ने कक्षा नर्सरी से कक्षा पांचवीं तक बंद करने का आदेश दिए है.

इसके अलावा अन्य कक्षाएं यानी कक्षा छठी सं 12वीं तक की पढ़ाई सुबह 10 बजे से शाम 3 बजे तक जारी रखने का आदेश दिया है. आपको बताते चले ठंड के कारण लगातार स्कूल बंद होने के कारण बच्चे घर से नहीं निकल पा रहे है.


इसी को ध्यान में रखकर डॉ विकास शंकर ने बताया कि ये ठंड करीब 118 साल का रिकॉर्ड तोड़ रही है. अभिभावकों को अपने बच्चे को ठंड में विशेष ध्यान देने की जरूरत हैं. आपकों बताते चले कि पटना के डीएम कुमार रवि ने बताया कि सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों अगर प्रशासन के आदेश की अवहेलना करते हुए पाए जाते है.

तो कानूनी कार्रवाई भी किया जा सकता है. इसके अलावा उन्होंने स्कूलों को आदेश दिए कि अगर कक्षा छठी से 12वीं तक की कक्षाएं 10 बजे के बाद ही खोलने आदेश है. शाम तीन बजे के बाद स्कूलों में शिक्षण से संबंधित कोई भी कार्य नहीं होगी.

सोमवार को बिहार के करीब  एक दर्जन से जिलों में सोमवार को सीवियर कोल्ड डे रहा. पछुआ हवाओं और दिन भर बादल छाये रहने की वजह से धूप लोगों को काफी परेशानी हुई. सोमवार को पटना का अधिकतम तापमान 14 डिग्री और न्यूनतम तापमान का 8.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज  किया गया.

रविवार की तुलना में सोमवार को अधिकतम तापमान में करीब डेढ़ डिग्री तो न्यूनतम तापमान में 0.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई . गौरतलब है कि अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री सेल्सियस कम रिकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग की मानें तो अधिकतम और न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री का अंतर होने के साथ ही 22 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं से ठंड बढ़ी है.

मौसम विभाग का दावा है की अभी एक सप्ताह तक मौसम में ठंड का प्रकोप रहेगा. विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं. बता दें कि सोमवार की सुबह घने कोहरे की वजह से 9 बजे तक विजिबिलिटी  भी 150 मीटर रही थी इस वजह से लोगों को आवागमन में  में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here