दिनेशलाल यादव निरहुआ ने की बिहार में 500 थियेटर ‘जादूज @ निरहुआ’ को लांच किया

0
Dinesh lal yadav @ Jadooj 1

पटना, 17 अगस्‍त 2019। सिनेमा से एजुकेशन को जोड़ने की दिशा में भोजपुरी सिनेमा के जुबली स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने एक सराहनीय पहल करते हुए आज बिहार में मिनी थियेटर ‘जादूज @ निरहुआ’ को लांच किया। इस मौके पर पटना के होटल रिपब्लिक में आयोजित एक संवाददाता सम्‍मेलन में दिनेश लाल यादव निरहुआ ने कहा कि जादू मिनी थियेटर के जरिये न सिर्फ सिनेमा के क्षेत्र में नयी क्रांति आयेगी, बल्कि इसके जरिये शिक्षा को भी जोड़ा जायेगा। ‘जादूज @ निरहुआ’ मिनी थियेटर का निर्माण को मनोरंजन के साथ ही शिक्षा के उद्देश्‍य से जोड़ा गया है।  इसलिए हमने ‘मिशन 500 : हर तहसील में एक सिनेमा’ का संकल्‍प लिया है।

Dinesh lal yadav @ Jadooj

निरहुआ ने बताया कि बिहार की जनसंख्या तकरीबन 09 करोड़ है, लेकिन यहां करीब 100 थियेटर हीं हैं। जबकि अकेले आंध्रप्रदेश की 05 करोड़ की जनसंख्या पर वहां लगभग दो हजार से अधिक थियेटर हैं। इसलिए हमारी सोच है कि हम हर तहसील में एक मिनी थियेटर का शुभारंभ करें, जहां भोजपुरी, हिंदी और हॉलीवुड सिनेमा के साथ कबड्डी जैसे अन्‍य गेम्‍स का स्‍क्रीनिंग होगी। इसके अलावा सुबह 7 से 10 बजे तक थिएटर के माध्यम से युवाओं को आईआईटी और आईआईएम से संबंधित शिक्षा भी दी जाएगी।

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

निरहुआ ने बताया कि सिनेमा न सिर्फ मनोरंजन का साधन है बल्कि लोगों के बीच संदेश देने का भी काम करता है। गांव के दूरदराज इलाकों में सिनेमा थियेटर नही होने की वजह से महिलायें सिनेमा देखने में वंचित रह जाती थी। अब तहसील में मिनी थियेटर खोले जाने से उन्हें सिनेमा देखने का अवसर मिलसकेगा। सिनेमा से लोगों में राष्ट्रीयता की भावना उत्पन्ना होती है। साथ ही कुछ शोज तो महिलाओं के लिए फ्री ऑफ कॉस्‍ट भी होंगी।

Dinesh lal yadav @ Jadooj 1

संवाददताता सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए जादूज के सीईओ राहुल मेहरा ने कहा कि आज सिनेमा को बढ़ावा देने के लिए बिहार,उत्तर प्रदेश और झारखंड में मिनी थियेटर खोले जाने की जरूरत है। हमनें इस बारे में सिंगल थियेटर के मालिक से भी बातचीत की और उन्हें यह कांसेपेट अच्छा लगा और उन्होंने कहा कि इसपर काम किया जा सकता है। उन्होंने कहा बिहार ही नहीं पूरे देश भर में थियेटर की कमी है। जो थियेटर हैं वह बहुत ही बड़े और महंगे हैं जो आम जनता की पहुंच से काफी दूर है। ऐसे में आम लोगों की परेशानी को देखते हुये हम हमलोग मिनी थियेटर का निर्माण करने जा रहे हैं। हमलोग बिहार ,उत्तरप्रदेश और झारखंड के हर तहसील में एक मिनी थियेटर का निर्माण कर रहे है। जो 800 से 1000 स्क्वायर फीट के दायरे में बनेगा जिसमें 70 से 80 के लगभग दर्शकों की क्षमता होगी।

पाकिस्तान ने नौशेरा सेक्टर में किया सीजफायर का उल्लंघन, 1 जवान शहीद

 

उन्‍होंने बताया कि एक सिनेमा की परिकल्पना के साथ उतरी ‘जादूज @ निरहुआ’  का सपना उत्तर प्रदेश और मध्य भारत में सिनेमा के परिदृश्य को ‘अगली पीढ़ी के मिनी-थियेटरों’ केनिर्माण से बदलने का है। हमें निरहुआ के साथ जुड़ने पर बहुत गर्व है। हमारा उद्देश्य मध्य भारत में मनोरंजन और शिक्षा को आकार देना है। मिनी थियेटर पूरा थियेटर वातानुकूलित होगा। इसके अलावा इसमें हाईटेक सुविधा होगी जिसमें थ्री डी और वीएफएक्स भी होगा। इसमें मनोरंजन के साथ हम लोग सिनेमा के क्षेत्र में भविष्य बनाने वाले लोगों के लिये तकनीकी शिक्षा के क्लासेस भी चलाएंगे ताकि जो गरीब और गांव के होनहार बच्चे है वह पढ़ सके। इस तरह की पहल से सिनेमा और मनोरंजन के साथ ही रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

Dinesh lal yadav @ Jadooj 2

जादूज के बिजनेस डेवलपमेंट मैनेजर मनीष शर्मा ने बताया कि अभी बिहार के दरभंगा, छपरा, बेगूसराय, समस्तीपुर और मुजफ्फपुर में शुरूआती दौर में मिनी थियेटर खोले जा रहे हैं। साल के अंत तक बिहार में 15 थियेटर शुरू कर दिये जायेंगे। उन्‍होंने ने कहा कि ‘जादूज @ निरहुआ’ मिनी थियेटर में हिंदी, भोजपुरी, बच्चों और महिलाओं पर आधारित गुणवत्तापूर्ण फिल्में दिखायी जायेंगी।  इस मिशन की शुरूआत पिछले वर्ष उत्तरप्रदेश से शुरू की गयी थी। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद ,बनारस ,जौनपुर ,मुरादाबाद ,आजमगढ़ समेत कई जिलों में मिनी थियेटर बनाये जा रहे हैं। हमारा लक्ष्य तीन साल के अंदर 500 मिनी थियेटर बनाने का है। उन्होंने कहा कि मिनी थियेटर बनाने के इच्छुक लोग दस लाख रूपये निवेश कर हमारे पार्टनर बन सकते हैं। इसके बाद हमारी कंपनी भी उन्हें मदद करेगी। हमारे बीच यह एग्रीमेंट दस वर्षो का होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here