पर्यावरणदोहन छोड़ हमें अब वृक्षारोपण की ओर बढ़ना होगा

0

विश्व पर्यावरण दिवस पर आज नेशन भारत लोगों से यह अपील करता है की पर्यावरण बहुत बहुमूल्य है जिसे हमें बुद्धि एवं संवेदना के साथ उपयोग करना चाहिए एवं पर्यवारंदोहन छोड़कर हमें वृक्षारोपण की तरफ अपना कदम अग्रसर करना चाहिए इसी में मानव जाति की भलाई भी है और धरती का अस्तित्व भी।

विगत कई सालों में हमने ना जाने कितने ऐसे उदहारण देखे होंगे जब पर्यावरण ने हमें चेतावनी देकर समझाया है की खिलवाड़ से जनजीवन अस्त व्यस्त हो सकता है मसलन हमने केदारनाथ की त्रासदी देखी जिसने मानव जाति को एक ठोकर दिया परन्तु इसके बावजूद भी हमने अनेक ऐसे कार्य किये जिसकी प्रतिक्षाया आज भी देखि जा सकती है और इस प्रतिक्षाया ने हमें आज पर्यावरणदोहन के उस मोड़ पर ला खडा किया है जहाँ की एक भी गलती और सबकुछ तबाह हो सकता है।

लगातार वृक्ष की कटाई से पर्यावरण कमजोर हो गया,अनेक प्रकार के रोग बढ़ रहे है इसलिए हर लोग अपने अपने घर के आसपास वृक्ष लगायें साथ ही अपने छत पर छोटे छोटे औषधि पौधे लगायें ताकि पर्यावरण मजबूत और स्वस्थ हो आज पर्यावरणदोहन का यह नतीजा है की पेड़ से लेकर पानी तक सभी सूख रहे हैं एवं जनजीवन अस्त व्यस्त हो चुकी है पर्यावरण किसी एक व्यक्ति की नहीं है और इसे कोई एक व्यक्ति बचा भी नहीं सकता है अतः इस धरती पर रहने वाले सभी लोगों को आगे आकर पर्यावरण रक्षा के लिए अपना योगदान देना होगा ताकि आने वाली पीढ़ी भी शुद्ध वातावरण का आनंद ले सके एवं निरोग रहे।

आज पर्यावरण दिवस के दिन हमें यह प्रण लेना होगा की आने वाला समय एवं पीढ़ी हम पर्यावरण को समर्पित कर देंगे और भावी पीढ़ी को हम ये हरी भरी और स्वस्थ धरती भेंटस्वरूप देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here