आज सड़क पर होंगे बिहार सरकारी स्कूल के शिक्षक, शिक्षक दिवस पर सरकार को तोहफा

0
PROTEST
PROTEST
5 सितंबर को हर साल देश में शिक्षक दिवस मनाई जाती है जिसमें शिक्षक अपने छात्रों एवं छात्राओं को इस बात की अनुभूति कराते हैं कि वे उनके लिए बेहद खास हैं एवं छात्रों के जीवन को संयोजित करने के लिए वे सदैव प्रयासरत रहेंगे।
बिहार में इस साल शिक्षक दिवस सरकारी स्कूलों के द्वारा नहीं मनाया जाएगा क्योंकि बिहार के शिक्षक नाराज़ है।
शिक्षक नाराज़ हैं सरकार की उस नीति से जिसमें उन्हें समान काम समान वेतन का हक नहीं दिया जा रहा है।
शिक्षकों ने यह ऐलान किया है वे 5 सितम्बर को पठन पाठन का कार्य बाधित रखेंगे एवं सड़क पर उतर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करेंगे।
तो वहीं सरकार ने भी अल्टीमेटम जारी किया है कि ऐसा कोई भी कार्य या कदम जो शिक्षकों के द्वारा उठाया जाएगा उसपर ठोस कार्रवाई की जाएगी।
ख़बरें यहाँ भी-
शिक्षा विभाग द्वारा जारी अल्टीमेटम यह कहा गया है शिक्षक 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस मनाएंगे और पठन पाठन का भी कार्य निर्बधित रूप से जारी रहेगा और इस अल्टीमेटम का उल्लंघन करने वाले शिक्षकों पर सरकार इस बार कतई भी रहम नहीं बख्शेगी।
शिक्षकों ने आंदोलन के लिए गर्दनीबाग हड़ताली चौक के लिए आवेदन दिया था पर उसे खारिज कर दिया गया।
अब अर्ज़ी खारिज़ होने के बावजूद वे शिक्षक आज सड़कों पर होंगे और ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि करीबन 1 लाख शिक्षक सरकार के खिलाफ अपना रोष सड़कों पर व्यक्त करेंगे।
अब आज सुबह 11 बजे की करीब ही यह तस्वीर साफ हो पाएगी की आखिर कितने शिक्षक कल सरकार के अल्टीमेटम को ठेंगा दिखा सड़कों पर होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here