मेडिकल स्टूडेंट के साथ छेड़खानी पर आईजीआईएमएस में बवाल

0

पटना। आईजीआईएमएस में एक बार फिर से चिकित्सक उग्र हो गए है। पूरे अस्पताल परिसर में हड़कंप मचा हुआ है।आईजीआईएमएस के मेडिकल के छात्र परिसर में ही मेडिकल सुपरिटेंडेंट मनीष मंडल के खिलाफ धरना पर बैठ गए हैं।धरना पर बैठे छात्र डा. मनीष मंडल को तत्काल प्रभाव से मुक्त करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि मनीष मंडल को खुद इस्तीफा दे देना चाहिए।इसके अलावा छात्रों ने सरकार से दूसरे मेडिकल सुपरिटेंडेंट को बहाल किए जाने की मांग पर सभी अड़े हुए हैं।

छात्रों की मानें तो कैंपस में बाहरी लड़के अक्सर आते हैं और मेडिकल की पढ़ाई कर रही लड़कियों के साथ छेड़खानी करते हैं। मंगलवार की शाम 2017 बैच की एक लड़की के साथ बाहरी लड़कों ने छेड़खानी की है। वो बाहर का काम खत्म कर अपनी स्कूटी से कैंपस में ही स्थित धंवतरी हॉस्टल में वापस लौट रही थी।करीब शाम के 7 बजे 4-5 की संख्या में आए बाहरी लड़कों ने उसका रास्ता रोका और उसके साथ अभद्र व्यवहार कर फरार हो गए।मेडिकल स्टूडेंट्स की मानें तो इससे पहले शुक्रवार को भी बाहरी लड़कों ने मेडिकल की पढ़ाई कर रही एक लड़की को छेड़ा किया था।

बेतूका बयान की वजह से उग्र हुए स्टूडेंट्सनाम न छापने की शर्त पर धरना में शामिल एक मेडिकल स्टूडेंट ने बताया कि जब शुक्रवार को छेड़खानी की घटना हुई तो उसकी शिकायत हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन ने की गई थी।उस वक्त थाना में प्रथमिकी दर्ज कराने से मना कर दिया गया था। हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन ने खुद से अपनी सुरक्षा एजेंसी से जांच करने का आश्वासन दिया था, लेकिन जब मंगलवार की शाम में फिर से छेड़खानी की घटना हुई तो कुछ स्टूडेंट्स मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. मनीष मंडल के पास पहुंचे।

स्टूडेंट्स का आरोप है कि मामला जानने के बाद डा. मनीष मंडल ने बहुत ही बेतूका बयान दिया। आरोप है कि उन्होंने साफ तौर पर कहा कि रात 8 बजे के बाद लड़कियां बाहर जाएंगी तो इस तरह की घटना होगी ही।इस बात को सुनते ही मौके पर मौजूद स्टूडेंट्स उग्र हो गए और फिर डा. मनीष मंडल को घेर लिया. अब इनके इस्तीफे की मांग हो रही है।हालांकि की मनीष मंडल ने उक्त आरोप को हक़ीक़त से परे बताया है।उन्होंने बताया कि ऐसी कोई बात हमने कही ही नही है क्योंकि सभी बच्चे हमारे हॉस्पिटल के बच्चे है।उनकी जिम्मेदारी हमारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here