जन अधिकार छात्र परिषद ने किया कामख्या लॉज के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन

0
JAP ANDOLAN
JAP ANDOLAN

राजधानी पटना के मुसलाहपुर हाट स्थिति कामख्‍या लॉज मालिक के द्वारा एक छात्र सौरभ की पिटाई के खिलाफ जन अधिकार छात्र परिषद ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।

इस दौरान छात्र परिषद के प्रदेश अध्‍यक्ष गौतम आनंद के नेतृत्‍व में सैकड़ों की संख्‍या में छात्रों ने लॉज का घेराव किया और लॉज को सील करने की मांग की।

साथ ही छात्रों ने निजी लॉज, निजी कोचिंग संस्‍थानों और प्रशासन की लापरवाही के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

बाद में गौतम आनंद ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पटना में निजी लॉज और निजी कोचिंग संचालकों की मनमानी आसमान पर पहुंच गया है।

छात्र यहां लूट, शोषण, अत्‍याचार और डर के माहौल में जी रहे हैं। कई छात्रों को दिन प्रति दिन मारा जाता है और उनसे डर – धमका कर मनमाना किराया वसूला जाता है।

गौतम ने कहा कि  ऐसे लॉजों का न कोई रजिस्‍ट्रेशन है और न कोई हिसाब रखने वाला है।

इसलिए लॉज के मालिक मनमाने तरीके से छात्रों का करते हैं, जिसके खिलाफ आज जन अधिकार छात्र परिषद ने लड़ाई का शंखनाद किया है।

ख़बरें यहाँ भी-

जन अधिकार छात्र परिषद ने किया कामख्या लॉज के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन

उन्‍होंने कामख्‍या लॉज को सील करने की मांग करते हुए जिला प्रशासन और राज्‍य सरकार चुप्‍पी तोड़ने की अपील की और कहा कि आखिर अभी तक छात्रों के हित में रूम रेंट एक्‍ट क्‍यों नहीं लागू किया गया है।

हम मांग करते हैं कि रूम रेंट एक्‍ट और कोचिंग एक्‍ट जल्‍द से जल्‍द बनाकर प्रभावी रूप से लागू किया जाये।

साथ ही छात्रों से आग्रह है कि वे अपने उपर हो रहे शोषण के खिलाफ एकजुट होकर सड़क पर आयें।

अगर आज नहीं आये तो कल फिर शोषण और बढ़ेगा। इसलिए एकजुट होकर विरोध दर्ज करायें।

आपके साथ जन अधिकार छात्र परिषद और लोक‍प्रिय नेता आदरणीय पप्‍पू यादव जी हमेशा खड़े हैं।

उन्‍होंने कहा कि अब लाठी चले गोली चले, या हमें  जेल भेजा जाय। हम जेल जाने के लिए तैयार हैं, लेकिन पटना में रहने वाले लाखों छात्र – छात्रों के उपर शोषण का बड़ा रूप देखना नहीं चाहते हैं।

हम छात्रों से मारपीट कभी बर्दाश्‍त नहीं करेंगे और आर – पार की लड़ाई लड़ेंगे।

नेशन भारत फेसबुक पर भी

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें  

विरोध प्रदर्शन के दौरान छात्र परिषद के मनीष यादव, शौकत अली, अरविंद यादव, राहुल रूद्र, शंशाक कुमार मोनू समेत बड़ी संख्‍या में स्‍थानीय छात्र भी शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here