महिलाओं को सुरक्षा देने और शराबबंदी में नाकाम है नीतीश सरकार : अखलाक अहमद

0
akhlak ahmad
akhlak ahmad

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार प्रदेश में शराबबंदी और महिला सुरक्षा की बात चाहे कितनी भी बात कर लें, लेकिन हकीकत है कि दोनों मामलों में सरकार फेल है।

नीतीश सरकार प्रदेश की महिलाओं को सुरक्षा देने पूरी तरह से विफल रही है। साथ ही जिस शराबबंदी पर वे अपना चेहरा चमका रहे हैं, वो कितना सफल रहा है। ये जगजाहिर है।

यही वजह है कि अब राजधानी में हॉस्‍टल संचालक द्वारा सरेआम दारू पीने की घटना सामने आयी हैं, जो बेहद शर्मनाक है। इसलिए हम जन अधिकार पार्टी (लो) सरकार से मांग करती है कि वे जल्‍द से जल्‍द निजी और लॉज हॉस्‍टल एक्‍ट और शराबबंदी को पूरी ईमानदारी के साथ लागू करें।

उक्‍त बातें आज जाप(लो) के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष पूर्व मंत्री अखलाक अहमद ने राजधानी पटना के खजांची रोड स्थित शशि गर्ल्स हॉस्टल के समक्ष जन अधिकार छात्र परिषद और जन अधिकार युवा परिषद द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन और हॉस्‍टल में तालाबंदी के दौरान शामिल होते हुई कही।

ख़बरें यहाँ भी-

सिपाही भर्ती मामले को लेकर पप्पू यादव ने किया मुख्यमंत्री सचिवालय का घेराव

उन्‍होंने कहा कि जिस प्रकार से पटना में हॉस्टल संचालकों का मनमानी बढ़ गया है और यहां छात्र-छात्राओं का शोषण किया जा रहा है। इसके खिलाफ आज से व्यापक आंदोलन किया गया।

ऐसे हॉस्‍टल ओनर सुधर जायें, वर्ना उनकी अब खैर नहीं। साथ ही हम सरकार और प्रशासन से भी ऐसे हॉस्‍टल संचालकों पर नकेल कसने की मांग करते हैं।

गौरतलब है कि यही वह गर्ल्‍स हॉस्‍टल हैं, जिसके संचालक कई दिनों से हॉस्‍टल में सरेआम दोस्‍तों के साथ दारूबाजी कर रहे थे, जिससे तंग आकर हॉस्‍टल की छात्राएं वीडियो बनाकर महिला आयोग गईं, उसके बाद यह मामला संज्ञान में आये। इस मामले में आज जन अधिकार पार्टी (लो) के छात्र और युवा विंग ने जोरदार प्रदर्शन किया।

मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए जाप (लो) राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता प्रेमचंद सिंह ने कहा कि पटना में निजी हॉस्‍टल और लॉज संचालकों की मनमानी खूब बढ़ गई है।

राज्य सरकार का ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ जुमला साबित हो रहा है। आज कैसे गर्ल्स हॉस्टल का संचालन कर रहे लोग वहीं बैठकर शराब पी रहे हैं।

बहन बेटियों के साथ जो घर से दूर पढ़ाई करने के लिए लॉज में रह रहे है, वहां दारूबाजी हो रहा है जिससे छात्राएं चिंतित है। उनसे अभद्र ब्यहवार किया जा रहा है। हम इसका पुरजोर विरोध करते हैं। दरअसल बिहार में दुशासन की सरकार चल रही है।

चाहे वो मुजफ्फरपुर का शेल्‍टर हाउस हो या कस्‍तूरबा स्‍कूल हर मामले में सरकार विफल है। इस मामले में पूर्व सांसद जब सदन में थे, तब भी उठाया था।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

लेकिन सरकार उनकी बातों को अनसुनी करती रही है। उन्‍होंने सरकार पर शराब बेचवाने का आरोप लगाया और कहा कि नीतीश कुमार का शराबबंदी, दहेज बंदी और गुटका बंदी वोट के लिए महज स्‍टंट है।

प्रदर्शन में जाप राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष अखलाख अहमद, बिहार प्रदेश अध्यक्ष रघुपति सिंह, राष्ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह एवं राजेश रंजन पप्पू, युवा परिषद एवं छात्र परिषद से सनी कुमार, आज़ाद चाँद, मनीष कुमार, शशांक कुमार मोनू, आशीष कुमार, आशीष विकाश, विकाश बंशी, विकी कुमार, विनय कुमार, रौशन कुमार, प्रिया कुमारी,रजनीश तिवारी, रमेश राम, प्रभात कुमार, नीतीश कुमार, गौरव कुमार,मनोज कुमार,अखिलेश कुमार, दिलीप यादव, निशांत कुमार, निरंजन यादव, धर्मेंद्र कुमार, क्रांतिवीर कुंदन, अविनित कुमार, पप्पू कुमार, प्रेम कुमार, मुलायम कुमार, राहुल रूद्र, आदित्य मिश्रा, अरबिंद कुमार, कुंदन यादव, संदीप कुमार  एवं अन्य लोग उपस्थित हुये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here