लैंडमाइंस ब्लास्ट में युवती की मौत, नक्सलियों ने बिछाया था प्रेशर बम का जाल

0
घाटी इलाके में हुए लैंडमाइंस विस्फोट में 16 वर्षीय लड़की की मौत हो गई

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: घाटी इलाके में हुए लैंडमाइंस विस्फोट में 16 वर्षीय लड़की की मौत हो गई है. लड़की जंगल में लकड़ी चुनने गई थी. इसके पहले भी लैंडमाइंस ब्लास्ट में कई पुलिसकर्मियों को भी अपनी जान गंवानी पड़ी है.

पेशरार थाना की केकरांग घाटी के जंगल में लड़की की मौत के बाद परिजनों को उसका शव निकालने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. पुलिस मौके पर नहीं पहुंची थी. चौकीदार के भरोसे बांस की सहायता से किसी तरह मृतका का शव निकाला गया. इस घटना के बाद पतगक्षा गांव के लोग काफी आक्रोशित हो गए. सैकड़ों लोगों ने सदर अस्पताल में हंगामा और प्रदर्शन किया.

लोकसभा और विधानसभा चुनाव में पुलिस को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सलियों द्वारा बमों का जाल बिछाया गया था, लेकिन चुनाव के दौरान पुलिस काफी चौकन्ना थी. यही कारण था कि चुनाव के समय कोई घटना नहीं घटी. इस इलाके में मतदान कर्मी हेलीकॉप्टर से गए और उसी से वापस लौट गए थे.

पेशरार, बुलबुल, सेन्हा और अन्य इलाके कभी नक्सलियों के गढ़ हुआ करते थे. लेकिन पुलिस और सीआरपीएफ जवानों का अभियान शुरू हुआ तो नक्सलियों ने इलाका तो छोड़ दिया, लेकिन पुलिस को उड़ाने की मंशा से जगह-जगह प्रेशर बम लगा दिये. हालांकि इसकी जानकारी पुलिस को हो गई है. पुलिस इन इलाकों में जाने में काफी सतर्कता बरत रही है, लेकिन क्षेत्र के ग्रामीण मवेशी चराने या फिर जंगल में लकड़ी लाने जाते हैं और इन बमों की चपेट में आ जाते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here