2014 में किये वादों को पूरा करने में पूरी तरह विफल रही मोदी सरकार : रंजीत रंजन

0

सुपौल से कांग्रेस की उम्‍मीदवार व सांसद रंजीत रंजन किया नामांकन

सुपौल। लोकसभा चुनाव में सुपौल से कांग्रेस की उम्‍मीदवार सह सांसद रंजीत रंजन ने जिला समाहरणालय में निर्वाचन पदाधिकारी के समक्ष अपना नामांकन कर दिया है। नामांकन के लिए घर से निकलते वक्‍त उन्‍हें सास – ससुर और पति पप्‍पू यादव ने तिलक लगाकार शुभकामनाएं दी। इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ वे सुपौल जिला समाहरणालय पहुंची और अपना पर्चा दाखिल किया।

नामांकन के बाद सुपौल के गांधी मैदान में एक विशाल जन सभा का आयोजन भी किया गया है, जिसमें बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा समेत महागठबंधन के अन्‍य नेता मौजूद रहे। रंजीत रंजन को मदन मोहन झा का आशीर्वाद भी मिला। इसके बाद रंजीत रंजन ने केंद्र की मोदी सरकार और राज्‍य की नीतीश सरकार को जमकर निशाना बनाया।

रंजीत रंजन ने कहा कि कांग्रेस वादे पूरे करने में विश्‍वास करती है, जबकि भाजपा खुद अपने वादों को चुनाव के बाद जुमले बता देती है। उन्‍होंने 2014 के चुनाव में जितने भी वादे किये, उसका 10 प्रतिशत भी वे पूरा नहीं कर पाये। कहा काला धन लायेंगे। युवाओं को रोजगार देंगे। बेटियों को सुरक्षा देंगे। गैस सिलिंडर का दाम कम करेंगे। महंगाई कम करेंगे। ऐसे कई वादे किये, लेकिन जब काम करने की बारी आयी, तो देश को नफरत की आग में झोंक दिया।

उन्‍होंने कहा कि 56 इंच का सीना लेकर आये थे, लेकिन उसका क्‍या हुआ ये सबको पता है। उस वक्‍त भी सुपौल की जनता उनके झांसे में नहीं आयी और अपनी बेटी को सांसद भेजा था। रंजीत रंजन ने तीन तलाक का जिक्र कर कहा कि मोदी सरकार ने महिलाओं को भी जाति – धर्म में बांटने का काम किया। तब हमने संसद में उन्‍हें कुरान पढ़कर भी सुनाया था। मोदी सरकार को दहेज हत्‍या, बलात्‍कार जैसी चीजें नहीं दिखती। वे सिर्फ मुसलमान और हिदुओं को आपस में लड़ाने की कोशिश कर रहे हैं। हमें इससे सर्तक रहने की जरूरत है।

उन्‍होंने कहा कि नीतीश कुमार सुशासन का राग अलापते हैं। कितना सुशासन है प्रदेश में ये सभी जानते हैं। नीतीश कुमार ने बिहार के डीएनए को बदनाम करने का आरोप जिस पर लगाया था, आज उसके साथ गल‍बहियां कर रहे हैं। इनके राज में तो महिलाएं और बेटियों का संस्‍थागत बलात्‍कार हो जाता है, मगर उनकी अतंरात्‍मा नहीं जगती और ये मंत्री, विधायक व अधिकारियों को बचाने में लग जाते हैं। क्‍या आपको ऐसे लोग सत्ता में चाहिए।

रंजीत रंजन ने सुपौल की जनता से अपील करते हुए कहा कि मुझे सुपौल की जनता पर गर्व है। उनके साथ मेरा रिश्‍ता विश्‍वास का है। जाति, धर्म, मजहब कुछ भी नहीं है, जो विपत्ति में आपके साथ खड़े हो, वही आपका होता है। सुपौल की जनता से हमारा रिश्‍ता चुनावी नहीं है। बहू बन कर आयी हूं, बेटी बन कर रहूंगी। सुपौल की जनता से प्‍यार,दुलार, दुआ, स्‍नेह के लिए ऋणी हूं। इसलिए नहीं कि चुनाव है, इसलिए कि सच में आपका आशीर्वाद मुझे हमेशा मिलता रहा है। आगे भी आशीर्वाद मिला तो ईमानदारी बनी रहेगी।

सभा को संबोधित करते हुए बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्‍यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि इस बार देश और संविधान बचाने की लड़ाई है। इसलिए कांग्रेस और महागठबंधन के उम्‍मीदवारों को वोट करें। कांग्रेस जुमलो की पार्टी ने वादे पूरा करने वालों की पार्टी है। ऐसे में सुपौल की जनता से अपील है कि महागठबंधन की उम्‍मीदवार रंजीत रंजन को पुरजोर समर्थन दें। सभा में रालोसपा के जिला अध्‍यक्ष धर्मपाल मेहता, हम के प्रखंड अध्‍यक्ष जगदेव ऋषिदेव, वीआईपी पार्टी के जिला अध्‍यक्ष राजेश्‍वर मुखिया के साथ जिला कांग्रेस, महिला कांग्रेस, यूथ कांग्रेस, एनएसयूआई अध्‍यक्ष समेत लाखों की संख्‍या में लोग शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here