अनंत सिंह के पैतृक घर पर ताबड़तोड़ छापेमारी, एके 47 और बम बरामद

0
ANANT SINGH
ANANT SINGH

बिहार के मोकामा क्षेत्र से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) के घर से पुलिस ने आज एक एके-47 राइफल बरामद की है। इसके अलावा कई प्रतिबंधित सामान मिलने की भी सूचना है।

पटना के पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्र ने बताया, ‘गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस की उपस्थिति में अनंत सिंह के पैतृक गांव ‘लदमा’ में उनके आवास पर छापेमारी की गई।

छापेमारी के दौरान ऐके-47 के साथ  ग्रेनेड और कारतूस भी बरामद की गई।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, विधायक के घर से बम भी बरामद किए गए हैं इसके बाद पुलिस ने पटना से बम स्क्वॉड की टीम बुलाई, जो मौके पर पहुंच गई।

दरअसल यह छापेमारी शुक्रवार की सुबह 11:00 बजे शुरू हुई इस छापेमारी के दौरान अनंत सिंह के पैतृक घर पर एक बुजुर्ग मौजूद था। यही बुजुर्ग घर का केयर टेकर है। पुलिस टीम के पहुंचने के बाद इस बुजुर्ग ने ही दरवाजा खोला था।

ख़बरें यहाँ भी 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहुंचे दिल्ली एम्स, अरुण जेटली से की मुलाकात

अनंत सिंह के मुताबिक़ उनके घर ,में छापेमारी के दौरान दीवारों और ज़मीनों को खोद आगया उन्होंने कहा की ऐसा लग रहा था की जैसे मैं कोई आतंकवादी हूँ और मेरे घर में कोई सर्च ऑपरेशन जारी है।

हालांकि, अनंत सिंह ने दावा है कि यह सारा राजनीतिक प्रपंच इसलिए खड़ा किया गया है क्योंकि बीते लोकसभा-2019 चुनाव में उन्होंने ललन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ा था।
उन्होंने कहा, “मैंने ललन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ा, इसीलिए मुझे लगातार परेशान किया जा रहा है। इन सब साजिशों को ललन सिंह और नितीश कुमार अंजाम दे रहे हैं।

आईपीएस लिपि सिंह के अगुवाई में यह छापेमारी हुई है जिसमें भारी मात्रा में बम एवं हतियार की बरामदगी हुई है, अनंत सिंह ने कहा की लिपि सिंह के अगुवाई में नितीश कुमार और ललन सिंह इस छापेमारी को अंजाम दे रहे है जो कि एक राजनीतिक बदले का हिस्सा है।

बता दें की आईपीएस लिपि सिंह जदयू से लोकसभा सांसद आरसीपी सिंह की बेटी हैं और इसी कारण से अनंत सिंह को शक है शायद लिपि सिंह को आगे करके जदयू अनंत सिंह से बदला ले रही है।

गौरतलब है की लगातार दूसरी बार अनंत सिंह पर पुलिस ने शिकंजा कसा है।

पिछली बार कुख्यात भोला सिंह की ह्त्या की साजिश रचते हुए अनंत सिंह का एक वॉयस सैंपल लीक हुआ था जिसमें कथित रूप से अनंत सिंह की आवाज़ बतायी जा रही थी जो किसी अज्ञात व्यक्ति के साथ भोला सिंह की ह्त्या की साजिश रच रहे थे।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

पुलिस ने 1 अगस्त को अनंत सिंह को वॉयस सैंपल देने के लिए हाज़िर होने का आदेश दिया जिसके बाद कई दिनों से फरार चल रहे अनंत सिंह अपना वॉयस सैंपल देने पहुंचे थे, हालांकि वहां भी उन्होंने इसे ललन सिंह और नितीश कुमार की चाल बताई थी।

अनंत सिंह पर यह दूसरी बार कसा शिकंजा है जो उन्हें काफी दूर तक घसीट सकता है क्योंकि छापेमारी में बरामदगी एके 47 और बमों की है जो कि एक दुर्लभ असलहा माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here