कश्मीर में माहौल खुशनुमा, घरों में बजने लगीं टेलीफोन घंटी

0
KASHMIR
KASHMIR

कश्मीर में अशांति के डर से बंद की गयी टेलीफोन सेवा को फिर से बहाल कर दिया गया है, पिछले 12 दिनों से घाटी में टेलीफोन सेवा बंद थी जिसके वजह से लोगों को परेशानियां भी आ रही थीं पर अब सरकार ने इस कदम से फिर से लोगों का भरोषा जीत लिया है की घाटी में अब हालात सुधर रहे रहे हैं।

आज से कश्मीर में लगी प्रतिबंधों पर थोड़ी थोड़ी ढील दी जा रही है जिससे की आम जनजीवन फिर से पटरी पर लौटने लगी है और अब घर से टेलीफोन की घंटियाँ भी सुनाई देने लगी हैं।

अधिकारियों ने बताया कि 100 से अधिक टेलीफोन एक्सचेंज में से 17 को बहाल कर दिया गया।

ये एक्सचेंज अधिकतर सिविल लाइन्स क्षेत्र, छावनी क्षेत्र, श्रीनगर जिले के हवाई अड्डे के पास है. मध्य कश्मीर में बडगाम, सोनमर्ग और मनिगम में लैंडलाइन सेवाएं बहाल की गई हैं।

ख़बरें यहाँ भी-

रवि शास्त्री ही रहेंगे भारत के कोच, कपिल देव की सलाहकार समिति का फैसला

वहीं उत्तर कश्मीर में गुरेज, तंगमार्ग, उरी केरन करनाह और तंगधार इलाकों में सेवाएं बहाल हुई हैं, जबकि दक्षिण कश्मीर में काजीगुंड और पहलगाम इलाकों में सेवाएं बहाल की गई हैं।

जम्मू कश्मीर सके मुख्य सचिव ने शुक्रवार को यह ऐलान किया था की अब से थोड़ी ढील दी जानी शुरू हो जायेगी और टेलीफोन सेवाएं भी सुचारु रूप से बहाल क्र दिया जायेगा।

विद्यालयों और कॉलेजों पर मुख्य सचिव ने कहा था कि अगले सप्ताह से क्षेत्रवार तरीके से विद्यालयों एवं कॉलेजों को  आदेश दिया जायगा और हालात वापस से सामान्य हो जाएंगे।

इसी बीच कश्मीर के सरकारी कार्यालयों में भी काम काज सुचारु रूप से चला और उपस्थिति के मामले में भी आंकड़ा काफी बेहतर रहा।

नेशन भारत फेसबुक पर भी 

पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

15 अगस्त से एक शाम पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देश को यह आश्वासन दिया था की सब कुछ सामान्य हो जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here