बंद की सफलता के लिए आम जनता और कार्यकर्ताओं को धन्यवाद: मांझी

0
हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से0) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने वामदलों द्वारा आयोजित बिहार बंद को पूरी तरह से सफल बताया है. मांझी ने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के लिखित संविधान में बदलाव किसी क़ीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे, केंद्र की मोदी सरकार देश के लोगों में जाति मजहब और वर्ग के नाम पर विभेद पैदा कर अराजकता का माहौल बना रही है.

एनआरसी लागू करने का ऐलान व सीएए जैसे कानून बनाने वाली भाजपा की सरकार की गलत नीतियों के कारण आज गरीबों, दलितों, अल्पसंख्यकों और धर्मनिरपेक्षता को डर और खतरे का माहौल पैदा हो गया है इसे कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे.
जीतन राम मांझी ने पटना स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि 20 दिसम्बर को महागठबंधन के द्वारा मशाल जुलूस निकाला जाएगा और 21 दिसंबर को महागठबंधन के घटक दल के द्वारा बिहार बंद का आह्वान किया गया है.

इन दोनों कार्यक्रमों में हमारी पार्टी समर्थन करती है. हमारी पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता पूरे प्रदेश के हर जिले में 20 और 21 के दोनों कार्यक्रमों में शामिल रहेंगे. 21 को होने वाले बिहार बंद को सफल बनाने का काम करेंगे. आज वामदलों द्वारा पटना के गांधी मैदान रामगुलाम चौक से डाकबंगला चौराहे तक बंद के समर्थन में जुलूस निकाली गई और डाक बंगला चौराहे पर सीएए एवं एनआरसी के विरोध में विरोध प्रदर्शन किए गए.

इस विरोध मार्च एवं प्रदर्शन में हम पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष उपेंद्र प्रसाद, पूर्व मंत्री अनिल सिंह, प्रदेश प्रवक्ता विजय यादव, रामविलास प्रसाद, राजेश्वर मांझी,अमरेंद्र त्रिपाठी, रंजीत चंद्रवंशी, हेमलता पासवान, गीता पासवान, रोशन देवी,रविंद्र शास्त्री, राजीव बलमा बिहारी, अनिल रजक, रामनिवास पाल, प्रफुल्ल चंद्र, नीतीश कुमार दांगी, राकेश कुमार, द्वारका पासवान, राजेश्वर पासवान आदि प्रमुख हम नेता आज बिहार बंद के इस कार्यक्रम में डाक बंगला चौराहा पटना में शामिल थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here