विकास का पैमाना शिक्षा, रघुवंश प्रसाद सिंह का बयान हास्यास्पद: मांझी

0

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क:  हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (से) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माँझी ने कहा कि विकास का पैमाना शिक्षा  है। जिस समाज में साक्षरता दर अधिक होता है, उसको विकसित माना जाता है। आजादी के 72 साल व्यतीत हो जाने के बाद भी दुर्भाग्य से बिहार में अनुसूचित जाति का साक्षरता दर 28% के आसपास है।

जबकि देश और राज्य का साक्षरता दर क्रमशः 71% एवं 61% है। इस दृष्टिकोण से अनुसूचित जाति में आरक्षण कायम रखते हुए आरक्षण सीमा को जनसंख्या के अनुरूप 25 फ़ीसदी करना नयायोचित होगा। पर यह काम संविधान में संशोधन बिना नहीं हो सकता। इसलिए हम (से) की मांग है कि संविधान में संशोधन करते हुए, जनसंख्या के अनुपात में आरक्षण की सीमा तय की जाए।

मांझी ने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर का आरक्षण फार्मूला के अनुरूप अनुसूचित जाति में भी एनेक्चर 1 एवं एनेक्चर 2 के रूप में विभक्त कर जनसंख्या प्रतिशत के आलोक में आरक्षण सीमा तय करने की मांग की है, साथ ही साथ हम (से) अनुसूचित जाति में शैक्षणिक स्थिति को मद्देनजर रखते हुए मांग की कि 15 फ़ीसदी या उससे कम साक्षरता वाली जातियों को अनुसूचित जाति एनेक्चर 1 एवं शेष को एनेक्चर 2 में रखते हुए उनकी जनसंख्या के प्रतिशत के आलोक में आरक्षण का लाभ देने की मांग की है। मांझी ने माननीय रघुवंश प्रसाद सिंह वरीय नेता राजद बिहार के उपचुनाव में मतदान प्रारंभ होने से पहले बयान दिया कि चुनाव से ‘हम’ एवं ‘वीआईपी’ पार्टी के उम्मीदवार वापस कर लिया लिए गए हैं, जो हास्यास्पद एवं बेबुनियाद है।

मांझी ने कहा कि सच्चाई यह है कि आज के दिन नाथनगर विधानसभा एवं सिमरी बख्तियारपुर विधानसभा के दोनों दल के उम्मीदवार उपचुनाव मुस्तैदी से लड़ रहे है। एक तरफ हम पार्टी के प्रांतीय अध्यक्ष गत 10 दिनों से अपने दर्जनों प्रांतीय पदाधिकारियों के साथ गांव गांव भ्रमण कर प्रचार प्रसार कर चुके हैं। आज उनके द्वारा चुनाव के दिन करीब 100 मतदान केंद्रों पर मतदान पर कड़ी नजर रखें हुए हैं।

मेरा मानना है कि हर हाल में हम (से) नाथनगर विधानसभा उप चुनाव में विजय होने जा रहा है। राजद तीसरे स्थान प्राप्त कर ले इसमें भी संदेह है। दूसरी ओर सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) विधानसभा उपचुनाव के लिए वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी सिमरी बख्तियारपुर में कैंप कर मतदान प्रक्रिया पर नजर रखे हुए हैं । 11:00 बजे तक मुझे सूचना मिली है कि दलित एवं अति पिछड़ा मतदाता गोलबंद होकर वीआईपी पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में मतदान कर रहे हैं।

मांझी ने कहा कि हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी ने नाथनगर एवं सिमरी बख्तियारपुर में ढाई-ढाई दिन रहकर संयुक्त रूप से गंभीर चुनाव प्रचार किया है। मांझी ने कहा कि हम आशान्वित हैं कि हमारी पार्टी हम’से’ एवं वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की कड़ी मेहनत बेकार जाने वाली नहीं है और हम लोग दोनों सीट पर विजयी होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here