दिल्ली के दंगल में लुट गई बिहार की इस बड़ी पार्टी की इज्जत

0
वोट मिलने से ज्यादा चुनाव प्रचार में दिखता था गाड़ियों का काफिला

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क: दिल्ली विधानसभा चुनाव की काउटिंग जारी है।एक बार फिर से आम आदमी पार्टी बहुमत में आती हुई दिख रही है।दिल्ली चुनाव में बिहारी नेताओं ने भी पूरी ताकत झोंकी थी।बिहार की तीन महत्वपूर्ण क्षेत्रीय दलों ने दिल्ली चुनाव में गठबंधन कर अपने प्रत्याशी उतारे थे।

लेकिन तीनों क्षेत्रीय दलों की स्थिति बेहद हीं खराब रही।सबसे खराब स्थिति तो राजद की दिख रही है।चुनाव आयोग की आंकड़ों पर गौर करें तो राजद को 4 विधानसभा में से तीन में अब तक 100 वोट भी नहीं मिले हैं।

उत्तम नगर से शक्ति कुमार बिस्नोई को 24 वोट,पालमसे निर्मल कुमार सिंह को 51वोट,किराड़ी विस में रियाजुद्दीन खान को 80 वोट, बुराड़ी से प्रमोद त्यागी को 914 मिले हैं।वहीं बुराड़ी सीट जहां से राजद और जेडीयू आमने-सामने थी वहां जेडीयू को 10163 वोट मिले हैं।


बिहार की सत्ताधारी पार्टी जेडीयू अपनी मुख्य विपक्षी राजद से वोट परसेंट के मामले में आगे है।राजद तो वोट फीसदी के मामले में लोजपा से भी पिछड़ गई है।जेडीयू बीजेपी से गठबंधन कर 2 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे।पार्टी की तरफ से बुराडी और संगम विहार से अपने उम्मीदवार खड़े किए थे।

पार्टी को अब तक एक फीसदी से अधिक वोट मिले हैं।चुनाव आयोग की तरफ से जो आंकडे जारी किए गए हैं उसके अनुसार जेडीयू को 1.04 फीसदी,एलजेपी को 0.29 फीसदी और सबसे कम राजद को 0.05 फीसदी वोट प्राप्त हुए हैं।वहीं लोजपा एक सीट सीमापुरी से चुनाव लड़ रही थी।


जबकि राजद कांग्रेस के साथ गठबंधन कर 4 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे।दिल्ली विधानसभा चुनाव में बुराड़ी सीट से राजद और जेडीयू एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रहे थे।लेकिन इस सीट पर भी आम आदमी पार्टी बढ़त बनाए हुए है और जेडीयू दूसरे नंबर पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here