बीजेपी की दो सहयोगियों ने भी आजमा ली अपनी ताकत, एक फीसदी वोट भी नहीं हुआ मयस्सर

0
: झारखंड में अपने बूते सरकार बदलने की बात करने वाली बिहार बीजेपी के दोनों सहयोगियों को करारा झटका

नेशन भारत, सेंट्रल डेस्क:  झारखंड में अपने बूते सरकार बदलने की बात करने वाली बिहार बीजेपी के दोनों सहयोगियों को करारा झटका लगा है। सबसे अधिक झटका तो जेडीयू को लगा है।

नीतीश कुमार की पार्टी ने पूरा दमखम लगाया था।लेकिन जेडीयू एक फीसदी वोट भी नहीं ला सकी। नीतीश कुमार की पार्टी को लगभग 0.80 फीसदी वोट से ही संतोष करना पड़ा है।

जबकि जेडीयू झारखंड में सरकार बनाने के दावे कर रही थी।वहीं हाल रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा का भी रहा है। लोजपा ने भी झारखंड चुनाव में सहयोगी बीजेपी से सम्मानजनक सीटें मांगी थी।

लेकिन बीजेपी ने इनकी मांग को खारिज कर दिया। बीजेपी की तरफ से भाव नहीं दिए जाने के बाद पासवान ने झारखंड की पचास सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार दिए।लेकिन चुनाव परिणाम में हालात ऐसे हो गए हैं कि चिराग पासवान की पार्टी लोजपा को जेडीयू से भी कम वोट मिले।यानि लगभग 0.27 फीसदी वोट से संतोष करना पड़ा।

बता दें कि झारखंड में जेडीयू ने 47 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे।सीएम नीतीश खुद झारखंड जाकर जेडीयू के चुनावी अभियान की शुरूआत की थी। चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार झारखंड नहीं गए लेकिन उनकी पार्टी के तमाम नेता और मंत्री झारखंड में कैंप किए रहे।

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह,सांसद ललन सिंह दो महीनों तक झारखंड चुनाव में पसीना बहाते रहे।जेडीयू के नेता झारखंड में नीतीश मॉडल पर वोट मांग रहे थे।लेकिन वहां के वोटरों ने जेडीयू के नीतीश मॉडल को पूरी तरह से खारिज कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here