क्या है कीमती: दहेज या जिंदगी

0
Dahej Pratha

दहेज निषेध अधिनियम के अंतर्गत दहेज लेना और देना दोनों ही जुर्म होता है। दहेज की मांग करना या इसको लेने या देने का बढ़ावा करना कानूनन अपराध है। यदि दहेज दिया जाता है तो इसे दुल्हन की सहमति से पति या सास-ससुर के पास रखा जाना चाहिए और दहेज की राशि दुल्हन की मांग पर प्राप्ति के 3 महीने के भीतर अवश्य वापस किया जाना चाहिए।

Bride and Dowry

पर क्या वाकई लोग इस नियम को फॉलो करते हैं?

बिहार जहां आज भी लोग लड़की को जन्म नहीं लेने देना चाहते है जिसके पीछे की बस एक ही वजह है शादी और दहेज, जहां आज भी लोग यह सोचते है की लड़की की पढ़ाई में जो इतने पैसे खर्च करेंगे उससे बेहतर है की उन पैसों को जमा कर उसकी शादी कर दे, आखिरकार पढ़ लिख कर क्या होगा जब एक दिन उसे घर छोड़ कर चले ही जाना है।

आज भी हर दूसरे घर की बहू पर यह ज़ोर डाला जाता है की बेटी को नहीं  बल्कि बेटे को ही जन्म देना है, और अगर बेटी जन्म ले भी ले तो या तो उसे गर्भ में ही मार दिया जाता है नहीं तो तब तक घर की बहू पे ज़ोर डाला जाता है जब तक एक बेटा जन्म ना ले ताकि अगर बेटी की शादी मे दहेज जाये भी तो बेटे की शादी मे दहेज मांग के हिसाब बराबर हो जाये। हमें बचपन से ही सिखाते हैं घर में, स्कूल में हर जगह की चाहे लड़का हो या लड़की सब एक बराबर होतें हैं कोई बड़ा या छोटा, ज्यादा या कम नहीं होता। तो यही चीज़ लोग अपने निजी ज़िंदगी में भी लागू क्यों नहीं करते?

Dahej Pratha

जब एक लड़की का जन्म होता है तभी से उसकी शादी की परेशानी उसके माँ बाप को होने लगती है। चाहे लड़की कितनी भी पढ़-लिख ले, कितनी भी कामयाब और स्वतंत्र क्यों ना हो जाये लेकिन उसकी जिंदगी से दहेज शब्द कभी खत्म नहीं हो सकता और हमें यह बोल कर चुप करा दिया जाता है की तुम लड़की हो और इस तरह से ही समाज चलता है। लेकिन बात यह है कि यह समाज किसने बनाया है? बेशक  तुम, मैं और हम। लेकिन हम खुद ही इसके नियमों को बदलने के लिए इच्छुक नहीं हैं।

ख़बरें यहाँ भी-

‘कैद कर दिया ज़ुबान को, वो बात लफ्ज पर आ के खिड़कियों से झाकती है,दम घुटता है इस दरवाजे के पीछे, सुना है दरवाजे के उस पार नई सी दुनिया है।

नेशन भारत फेसबुक पर भी

तोड़ दो बेरियों को,लटका दो फासी पर ऐसी सोंच को।

एक बार आज़ाद कर के तो देखो अपने खयालात को, तुम बदलोगे, हम बदलेंगे, सब बदलेगा।’

“वक़्त बे वक़्त जलती आ रही है कई जिंदगियाँ, बहुत हुआ अब दहेज जला के देखो।”

इस फोन को खरीद कर आप बचा सकते हैं 17,990 रुपये और साथ ही मिलेंगे कई ऑफर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here